जठराग्नि

एक आग है प्रकृति में

जठराग्नि

दहकती है जीव जीव के उदर में

मानव एक जीव ही है

जठराग्नि लिए घूमता है

दहकता रहता है

ज्ञान का घट

विवेक शीतल जल

संभाल लेती है

लेकिन हर मानव में यह संभव नहीं

क्योंकि मानव भी प्रकृति का एक जीव है

जठराग्नि लिए घूमता है

#fbp 7

#मेरी_कविता 2

#पोटली_रही_की 2

#myhobbynaturephotography_2

Photo credit :- rashmi kiran

Camera OnePlus7

1 view0 comments

Recent Posts

See All

©2019 by Sahitya Kiran.