• rashmi kiran

"नीड़ न कभी खाली होगा"

Updated: May 29


*********************

नीड़ बन गये प्राण

पनपी वहाँ नई जान

जीवन गति समेटे

नीड़ की ओट में लेटे

तैयार था भरने उड़ान


उड़ गया जो पंख पसारे

पर नीड़ न कभी ख़ाली होगा

गूंजेंगी चहक चहुँ ओर यादें

थका हुआ फिर यहीं आयेगा

नीड़ की ओट में लेटे

सदा आन्नदित ख़ुद को पायेगा

क्षितिज पाने फिर फिर जायेगा

नीड़ न कभी ख़ाली होगा।

..........रश्मि किरण

३०/१२/१५

{This website is for the love of Hindi India and positivity It can be a language tutor . A beautiful person with beautiful heart and soul can receive the positivity of this site . Articles of this site will help you as a life coach School . Your support and love for this site can make it a best selling Author Store}


15 views0 comments

Recent Posts

See All